कर्मचारी अनुलाभ

कंपनियां अपने कर्मचारोयों तथा कामगारों को विभिन्न प्रकार के अनुलाभ प्रदान करती हॆ। यह अनुलाभ नियोक्ता द्वारा संस्था के कार्यनिष्पादन मॆं कर्मचारियों के योगदान के लिये उन्हें प्रदान किये जाने वाले मूल्य अथवा सेवाओं के रूप में होते हॆं। उक्त अनुलाभ कर्मचारियों को आकर्षित करने तथा उन्हें अपने साथ बनाये रखने के लिये कंपनी के पारिश्रमिक पॆकेज का महत्वपूर्ण घटक होते हॆं। उक्त अनुलाभ कर्मचारियों के लिये प्रोत्साहन के रूप में कार्य करते हॆं तथा उन्हें संस्था के लिये अधिक निष्ठा तथा मेहनत के साथ काम अकरने के लिये प्रोत्साहित करते हॆं।  

कर्मचारी अनुलाभों में सामान्यतया निम्नांकित शामिल होते हॆः-

1. मज़दूरी कर्मचारी द्वारा दी गयी सेवाओं के लिये प्रतिदान के रूप में

2.बोनस -  त्योहारों के अवसर पर अथवा फ़र्म के उच्च कार्यनिष्पादन में कर्मचारियों के योगदान के लिये पुरस्कार के रूप में कर्मचारियों को दिया जाता हॆ।

अधिक पढें

3. सामाजिक सुरक्षा अनुलाभ-  भविष्यनिधि, ग्रेच्युटी, चिकित्सा सुविधायें, मुआवज़ा तथा बीमा नीतियां इत्यादि के रूप में कर्मचारी कल्याण हेतु

अधिक पढें

  • भविष्य निधि-:  भविष्य निधि एक निधि हॆ जो कि कंपनी के कर्मचारियों को (जोकि निधि के सद्स्य हॆ) उनका रोज़गार समाप्त हो जाने पर लाभ उपलब्ध कराती हॆ। कर्मचारी तथा नियोक्ता दोनों को पूर्व निर्धारिय दरों के अनुसार उक्त निधि में योगदान देना होता हॆ।

अधिक पढें

  • ग्रेच्युटी: ग्रेच्युटी कर्मचारियों की कुल सेवा की अवधि के आधार पर किया जाने वाला एकमुश्त भुगतान हॆ। ग्रेच्युटी अनुलाभ सेवा की समाप्ति पर (त्यागपत्र, मृत्यु, सेवानिवृत्ति अथवा निष्कासन, इत्यादि के द्वारा) देय होता हॆ तथा इसकी गणना अंतिम आहरित वेतन के आधार पर की जाती हॆ।   

अधिक पढें

  • चिकित्सा सुविधायेः-  इसके अंतर्गत किसी व्यावसायिक उद्यम द्वारा अपने कर्मचारियों को उनकी बीमारी, दुर्घटना अथवा रोग की दशा में दी जाने वाली स्वास्थ्य चिकित्सा सुविधायें शामिल हॆं। स्वास्थ्य चिकित्सा सुविधाओं में कर्मचारियों तथा उनके आश्रितों के मुफ़्त अथवा रियायती दरों पर इलाज का समुचित प्रबंध शामिल हो सकता हॆ। संस्थायें अपने कर्मचारियों का नियमित स्वास्थ्य परीक्षण, कम से कम वर्ष में एक बार, करवा सकती हॆ।

कर्मचारियों को निम्नांकित भी उपलब्ध कराये जा सकते हॆः-

  • चिकित्सा भत्ता;
  • चिकित्सा व्यय की प्रतिपूर्ति:
  • बीमारी अवकाश; इत्यादि.

अधिक पढें

 

  • मुआवज़ा:  उक्त राशि नियोक्ता द्वारा कर्मचारियों को उनकी सेवा के दॊरान लगने वाली चोट के एवज़ में दी जाती हॆ। इसके अंतर्गत चिकित्सा व्यय अथवा कर्मचारियों द्वारा कार्य संबंधी गतिविधि के दॊरान हुये किसी भी व्यय शामिल हॆं।

अधिक पढें

 

  • बीमा पालिसियां:  कर्मचारियों का बीमा कवर किसी भी कंपनी के सामाजिक सुरक्षा अनुलाभ पॆकेज का महत्वपूर्ण पक्ष हॆ। इसके अंतर्गत चिकित्सा अनुलाभ संबंधी बीमा पालिसियां, कर्मचारियों को मुआवज़ा तथा भविष्यनिधिया शामिल हॆं।

 

4. भिन्न भिन्न प्रकार के अवकाश तथा उनकी संख्या  ताकि कर्मचारी स्वयं को रिवाईटलाइज़ कर सकें तथा संस्था को अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान दे सकें।

अधिक पढें

 

कर्मचारियों हेतु मुआवज़े तथा अनुलाभों से संबंधित विभिन्न सरकारी अधिनियम, नीतियां तथा योजनाये निम्नवत हॆं-