इलैक्ट्रिक एवं इलैक्ट्रॉनिक उत्पाद

Electrical and Electronic Products

भारत का इलैक्ट्रॉनिक उद्योग का आकार 91400 करोड़ रुपये का है, जो कि विश्व के इलैक्ट्रॉनिक उद्योग का मात्र 0.7% है।   तथापि, भारतीय बाज़ार में इसकी मांग तेजी से बढ़ रही है और इसकी  उत्पादन क्षमता को बढ़ाने के लिए इस क्षेत्र में निरंतर निवेश हो रहा है।  वर्ष 2005 में भारत ने 56300 करोड़ रुपये से भी अधिक  की  इलैक्ट्रॉनिक सामग्री, घटकों और उत्पादित उपकरणों का आयात किया और यह इस क्षेत्र में प्रमुख आयातक रहा।  लेकिन यह अच्छी स्थिति नहीं है और बढ़ती हुई स्थानीय मांगों को पूरा करने के लिए स्थानीय उत्पादों को बढ़ाना होगा।

इलैक्टॉनिक्स बाजार को उपभोक्ता इलैक्टॉनिक संचार एवं प्रसारण उपकरण, कम्प्यूटर, रणनीतिक घटकों, औद्योगिक घटकों और अन्य घटकों में पुनः विभाजित किया जा सकता है।

भारत  विविध  प्रकार के इलैक्ट्रॉनिक घटकों और निम्नलिखित क्षेत्र के उत्पादों का निर्यातक भी  है :

  • प्रदर्शन संबंधी प्रौद्योगिकियाँ
  • मनोरंजन से संबद्ध इलैक्ट्रॉनिक
  • ऑपटिकल स्टोरेज उपकरण
  • निक्रिय(पैसिव) घटक
  • वैद्युतयांत्रिक (इलैक्ट्रोमेकैनिकल) घटक
  • दूरसंचार उपकरण
  • संचरण(ट्रांसमिशन) एवं सिंगनल देने वाले उपकरण
  • सेमिकंडक्टर डिजायनिंग
  • इलैक्ट्रॉनिक विनिर्माण संबंधी  सेवाएँ

 

इलैक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी निर्यात

(बिलियन रुपये)

 

 

 

 

 

 

मदें

2002-03

2003-04

2004-05

2005-06

2006-07

2007-08*

उपभोक्ता इलैक्ट्रॉनिक्स

7.5

8.25

11.5

20

15

17.84

औद्योगिक इलैक्ट्रॉनिक्स

1.4

15.15

15.0

23.0

30

36.3

कम्प्यूटर

5.5

14.4

1.2

10.25

15.0

19.28

सूचना प्रसारण उपकरण

5.00

1.65

3.5

5.0

6.5

6.94

घटक

2.40

37.55

38.0

38.0

58.5

67.25

उप-योग

56.0

77.0

80.0

96.25

125.0

127.0

कम्प्यूटर सॉफ्टवेयर

461.0

582.4

801.8

1041.0

1410.0

1630.0

योग

517.0

659.4

881.8

1137.25

1535.0

1757.0

*अनुमानित

भारत का इलैक्ट्रॉनिक बाजार प्रतिवर्ष 30% की दर से बढ़ता जा रहा है।  इस दर इस उद्योग में वर्ष 2015 तक 7.2 लाख करोड़ रुपये से भी अधिक की अनुमानित वृद्धि होगी।भारत के इस उद्योग में वृद्धि की संभावनाओं को देखते हुए सोलेक्ट्रॉन, फ्लैक्सट्रॉनिक्स, जाबिल, नोकिया एवं इल्कोटेक जैसी अनेक अंतरराष्ट्रीय कम्पनियों ने भारतीय बाजार में तेजी से प्रवेश किया है।   उपभोक्ता इलैक्टॉनिक्स में एलजी ओर सैमसंग जैसी कोरिया की कम्पनियों ने पर्याप्त संख्या में अपने विभिन्न उत्पादनों को स्थापित करके अपनी प्रतिबद्धता निभायी  है और अब टेलीविजन, सीडी/डीवीडी प्लेयर्स , श्रव्य उपकरणों और मनोरंजन के अन्य उत्पादों  के बढ़ते बाज़ार में इन कम्पनियों का काफी बड़ा हिस्सा है।

आंकड़े - ईएलसीआईएनए

 

Relevant Reports

Tips: 
Refer to links below for support organisations and best practices